• Mon. Feb 6th, 2023

News.Com

मीडिया से गायब खबरें

अमेरिकी न्‍यायालय के गर्भपात विरोधी फैसले का पूरी दुनिया में विरोध

अमेरिकी सुप्रीम कोर्ट द्वारा 50 साल पुराने रो वी वेड के फैसले को पलटने के बाद, अमेरिका में लाखों महिलाएं गर्भपात के संवैधानिक अधिकार को खो देंगी। यह निर्णय अलग-अलग राज्यों के लिए प्रक्रिया पर प्रतिबंध लगाने का मार्ग प्रशस्त करता है। गर्भपात को स्वचालित रूप से गैरकानूनी घोषित करने के लिए तेरह तथाकथित ट्रिगर कानून पहले ही पारित कर चुके हैं।राष्ट्रपति जो बिडेन ने इसे “एक दुखद त्रुटि” के रूप में वर्णित किया और राज्यों से प्रक्रिया की अनुमति देने के लिए कानून बनाने का आग्रह किया। सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद, गर्भपात की सुविधा देने वाले एक स्वास्थ्य संगठन, प्लान्ड पेरेंटहुड के शोध के अनुसार, प्रजनन आयु की लगभग 36 मिलियन महिलाओं के लिए गर्भपात की पहुंच में कटौती की उम्मीद है। अमेरिकी न्‍यायालय के इस फैसले का पूरी दुनिया में विरोध किया जा रहा है। महिला कार्यकर्ताओं का कहना है कि इस फैसले ने महिला अधिकारों की लड़ाई को 50 साल पीछे धकेल दिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.