Connect with us

Bhopal

मैदा मिल रोड बंद:15 दिन तक रहेगा बंद; मेट्रो प्रोजेक्ट के लिए बीडीए तिराहे से आयकर भवन तिराहे तक वाहनों की आवाजाही पर रोक

Published

on

मैदा मिल रोड बंद:15  दिन तक रहेगा बंद; मेट्रो प्रोजेक्ट के लिए बीडीए तिराहे से आयकर भवन तिराहे तक वाहनों की आवाजाही पर रोक
मैदा मिल रोड बंद:15 दिन तक रहेगा बंद; मेट्रो प्रोजेक्ट के लिए बीडीए तिराहे से आयकर भवन तिराहे तक वाहनों की आवाजाही पर रोक
Advertisement

असर… इस रोड से पीक ऑवर में 6500 से ज्यादा वाहन गुजरते हैं, एमपी नगर आने- जाने के लिए अरेरा हिल्स से गुजरना होगा

रचना नगर अंडरब्रिज का भी उपयोग सुभाष नगर और अशोका गार्डन जाने के लिए कर सकते हैं

भोपाल मेट्रो प्रोजेक्ट के निर्माण कार्य के लिए शुक्रवार (4 सितंबर) से 15 दिन यानी 18 सितंबर तक मैदा मिल रोड बीडीए तिराहे से आयकर भवन तिराहे तक की सड़क बंद रहेगी। इस दौरान वाहन अरेरा हिल्स की भीतरी सड़कों से गुजरेंगे। ऐसी स्थिति में सुबह और शाम को पीक ऑवर के दौरान ट्रैफिक जाम की स्थिति बन सकती है। मैदा मिल रोड पर पीक ऑवर में पीसीयू 6500 है। मेट्रो रेल कंपनी की ओर से मिली सूचना के बाद ट्रैफिक पुलिस ने 15 दिन का डायवर्जन प्लान तैयार किया है।

18 सितंबर तक बंद रहेगा यह रास्ता
300 मीटर का रास्ता किया जाएगा बंद
घूमकर जाना होगा लोगों को
यहां से आ-जा सकेंगे…

जिंसी चौराहा से मैदा मिल होकर एमपी नगर की ओर जाने वाले वाहनों को केंद्रीय विद्यालय क्रमांक-1, अरेरा हिल्स, जेल रोड होते हुए एमपी नगर आना होगा।

ऐसे ही एमपी नगर से जिंसी चौराहा की ओर जाने वाले वाहन गुरुदेव गुप्त तिराहे से जेल रोड, भोपाल जिला अदालत, केंद्रीय विद्यालय क्रमांक-1 से मैदा मिल होते हुए आवागमन कर सकेंगे।
यह वाहन विकल्प के तौर पर जेल रोड का इस्तेमाल करते हुए लाल परेड ग्राउंड, जहांगीराबाद होकर भारत टॉकीज और नादरा बस स्टैंड की ओर आ-जा सकेंगे।

एमपी नगर से सुभाष नगर और अशोक गार्डन की ओर जाने के लिए वाहन चालक रचना नगर अंडरब्रिज से भी आ-जा सकेंगे।

सुभाष नगर रेलवे ओवर ब्रिज का मामला नहीं सुलझा

एमपी नगर से सुभाष नगर को जोड़ने वाले सुभाष नगर आरओबी का मामला अभी तक नहीं सुलझ पाया है। इस ब्रिज पर आने- जाने वाले वाहनों को मैदा मिल रोड पर दुर्घटना से बचाव के लिए ट्रैफिक आइलैंड बनाया जाना है। मेट्रो के एक पिलर को रोटरी की तरह इस्तेमाल किए जाने पर चर्चा हुई थी। लेकिन पिलर बन जाने के बाद ही इस पर अंतिम निर्णय हो सकेगा। इस ब्रिज के शुरू होने से काफी हद तक ट्रैफिक का दबाव कम हो सकेगा। अभी मेट्रो प्रोजेक्ट का काम चलते ने एमपी नगर से जिंसी आने और जाने वाले लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ता है।

Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Trending