Connect with us

World

कोरोनावायरस की वैक्सीन रूस ने तैयार कर ली है इस पर भारत, ब्राजील और अमेरिका क्या कह रहा है

Published

on

बड़ी खबर जैसा कि आप लोग जानते ही होंगे कोरोनावायरस की वैक्सीन रूस ने बना ही ली है रूस के राष्ट्रपति पुतिन ने पूरी मीडिया के सामने प्रेस कांफ्रेंस में बताया कि उनकी देश में एक पहली कोरोनावायरस इन तैयार कर ली गई है जो कि 2 महीने तक इसे उनके देश के लोगों पर ट्रायल किया गया है और सब पर खरा उतरा है यह वैक्सीन उनका मानना यह भी है यह वैक्सीन उनकी बेटी पर भी इस्तेमाल किया गया है जो कि खरा उतरा साथ ही रूस की स्वास्थ्य मंत्रालय ने भी इस वैक्सीन की मंजूरी दे दी है

Advertisement

 वही एक तरफ विश्व स्वास्थ्य संगठन संगठन WHO  ने एक वह भी बात कही है कि उन्हें कोई जानकारी नहीं है फिर उसकी कोरोनावायरस इन के बारे में एक 11 अगस्त को रूस के राष्ट्रपति पुतिन ने अपनी सरकार के मंत्रियों के साथ प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया कि पहली वैक्सीन आ चुकी है जो कि काफी अच्छे पैमाने पर खरी उतरती है दुनिया में खलबली मची है इस पर बाकी देशों का क्या कहना है जैसे कि अमेरिका भारत और ब्राज़ील चलिए आपको बताता हूं

का कहना है कि सुनने में आया है कि ब्राजील भी वैक्सीन बना रहा है लेकिन उनका कहना यह है अभी है जब तक ट्रायल नहीं हो जाते ब्राजील को वैक्सीन नहीं बनाना चाहिए डब्ल्यूएचओ के नियमों के अनुसार अंतरराष्ट्रीय नियमों का पालन करना चाहिए

अगर हम रूस में कोरोनावायरस की मामले की आखिरी के बारे में बात करें तो 8.95 लाख हजार से ज्यादा केस है कोविड-19 के वहीं अगर मृत्यु की बात करें तो 15000 से ज्यादा लोगों की मृत्यु हो चुकी है यह वैक्सीन अंतिम चरण में भी एकदम खरा उतरता है और रूस के राष्ट्रपति पुतिन ने यह तक बोल दिया कि यह वैक्सीन को उनकी बेटी पर ट्रायल किया गया और यह बात शत प्रतिशत सच है

corna के मामले में रूस चौथे पायदान पायदान पर है वहीं मौत के मामले पर एक 11वें पायदान पर रूस सबसे जल्दी वैक्सीन बना चुका है लेकिन दुनियाभर के वैज्ञानिक इससे चिंतित भी है केवल रूस ही नहीं और कई सारे देश है जो कि वैक्सीन बनाने में लगे हुए हैं जैसे कि भारत के अंदर भी वैक्सीन बंदे अमेरिका 6 तरीके की वैक्सीन बना रहा है जो कि अंतिम चरण पर उनका दावा यह भी है कि इस साल के अंत में उनके पास एक अच्छी वैक्सीन होगी साथ ही ब्रिटेन भी काम कर रहा है वैक्सीन पर 11 अगस्त को इंडोनेशिया और मेक्सिको ने बताया कि उनकी वैक्सीन अंतिम चरण पर हैं वह भी बनाने में लगे हुए हैं और दवाई बनाने वाली कंपनी GSK का भी दावा है कि वह भी दवा ढूंढ रही है

Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Trending